ब्रेकिंग | बीजेपी का मुसलमानों पर बड़ा ऐलान | मोदी शाह से भिड़े राहुल गाँधी | BJP में बगावत

दूसरा दीवाने कुछ महीनों के बाद कई राज्यों के विधानसभा चुनाव होने हैं और इसी में आसान के विधानसभा चुनाव शामिल हैं आस्था के विधानसभा चुनाव को लेकर के सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी अपनी तैयारियों में लगी है

लेकिन बीजेपी जीस तरह की तयारी कर रही है वो चौका देने वाली है आसान के विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने एक बड़ा ऐलान किया है और जेक उन्होंने अपने चुनावी था रणनीति पर कही ना कही बयान देकर के हिसाब से साबित किया है कि आगे आने वाले चुनाव में उनका मुद्दा क्या होगा और किस तरह से चुनाव लड़ने वाले मुसलमानो को लेकर भी बढ़ा दिया गया साथ ही था

राहुल गाँधी ने एक बार फिर से पीएम मोदी को निशाने पर लिया है साथ ही साथ उन्होंने पीएम मोदी और मोदी सरकार उन्हें करके एक बड़ा बयान दे डाला है साथ ही साथ बीजेपी के अंदर था कई सांसदों की जो लगातार बढ़ावा दे वह अभी भी जारी है और एक बार फिर से पेट्रोल डीजल को ले करके बीजेपी अपने नेताओं में ही अपनी पार्टी से बगावत करती हैं हम एक एक करके सभी खबरों के बारे में आपको विस्तार से जानकारी देंगे इससे पहले छोटी सिस्टर आपको भी लगता है कि आज हमारे देश को अच्छी शिक्षा अच्छी हॉस्पिटल फेसिलिटी अच्छे रोजगार की जरूरत है

अच्छी क्वालिटी की जरूरत है अगर आप इस्तेमाल करते हैं तो वीडियो लाइव करके चल को स्थायी जरूर करनी चाहिए सबसे पहले तो आप इस ख़बर को देखें आपदा पड़े हैं अमर उजाला की ख़बर है इस में छापा गया है कि खाना हालाँकि वे नेत्री कॉलेज में चार हज़ार पांच सौ लोगों को नियुक्त पत्र सौंपने के बाद किया था अनुभव के आधार पर यह कहा जा रहा है कि बीजेपी को मुसलमानों फोटो की आवश्यकता भी नहीं है

ये कोई और नहीं बीजेपी के नेता कह रहे असद सरकार के वित्त मंत्री हिम्मत विश्वास शर्मा ने कहा कि मुस्लिम समुदाय भाजपा को वोट नहीं देता बीजेपी को सीट नहीं मिलेंगे जो मियाँ मुस्लिम के हाथों में हेमंत विश्व शर्मा ने कहा कि अनुभव याद आता कह रहा हूँ कि मुस्लिम भाजपा को वोट बिलकुल नहीं देते हैं उन्होंने पचास लोकसभा चुनाव में हमें वोट नहीं दिया विधानसभा चुनाव में भी भाजपा को सीधे नहीं मिलेंगे जहाँ इन के रूप में ज्यादा है

लेकिन हम उन सीटों पर भी राशि मैदान में उतारेंगे ताकि जो लोग खुद को मुस्लिम औरत से नहीं जोड़ते उन्हें कहा था कि आतंकवाद पर शक कर चुनाव लड़ने का विकल्प मिल सके तीर स्वास्थ्य और बीजेपी के नेता ये कह रहे हैं और ये खुलासा कर रहे हैं

कि उनको मुसलमानों की वोटों की जरूरत नहीं है आप इसके शोर्ट में जैसा देख सकते हैं ये बीजेपी के दिग्गज नेता शुरु किया साथ ही उन्होंने यह बात कही है अगर इस तरह की और इसमें इतने ऊंचे पद के नेता इस तरह की बातें करते हैं तो आप समझ सकते हैं एक विशेष वर्ग के लिए उनके मन में इस तरह की बातें है अगर यह

है अगर यह बात है तब भी इस तरह से उन्हें अपना बयान दिया है आप समझ सकते हैं आने वाले चुनाव में बीजेपी की रणनीति क्या हो शहर बात करते दूसरी बड़ी ख़बर या फिर पर कभी देखें राहुल गाँधी एक बार फिर से देश के प्रधानमंत्री और मोदी सरकार से भिड़ गए दरअसल जिसतरह से अर्नब गोस्वामी को लेकर लगातार जब मुंबई पुलिस थाना गोस्वामी पर दबिश डाल रही थीं गिरफ्तार कर रहे हैं

तो बीजेपी के नेता बयान दे रहे थे कहते हैं कि यह पत्रकारिता स्वतंत्र पत्रकारिता के ऊपर एक हमला लेकिन जब अलग है स्वामी की वाट्सऐप चैट लिखी हुई उसने इस तरह के खुलासे हुए उस पर बीजेपी के किसी भी नेता का बयान आ आना कहीं ना कहीं दर्शाता है पत्रकारिता है उससे बीजेपी खुश हैं या नपुंसक ऐसी बाद अब राहुल गाँधी मोदी सरकार और बीजेपी के नेताओं को आड़े हाथ लिया कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी सवाल आते ही उन्होंने कहा है

कि अगर प्रधानमंत्री ने ऐसा नहीं किया तो वह फिर जांच का आदेश क्यों नहीं दे रहे हैं दरअसल आग्रा गोस्वामी को लेकर ये बड़ा बयान उन्होंने दिया है उनका कहना है की जब वह रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को बालाकोट या स्ट्राइक से पहले उसकी जानकारी कैसे मिले और आपके साथ ही जुटाव जीवन के आॅफिस रहते हैं चारवी कमांडर रहते है

आदमी के प्रतिशत हृदय उनके पास जानकारी रहती है सरकार के बड़े नेताओं के पास इसकी जानकारी रहती है तो अपना गोस्वामी जैसे एक न्यूज़ चैनल के पत्रकार को यह जानकारी कैसे मिली उनका कहना है कि आपका गोस्वामी को जानकारी मिली है ये कहीं ना कहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जरिए ही मिली है और इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और अगर जांच होती है तो उसमी नेता फंसेंगे बहाल उन्होंने अपने दावे को लेकर कोई सबूत नहीं दिया है

लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से भी मिला स्थान पर कोई जवाब नहीं दिया गया लेकिन तमिलनाडु के करुर में चुनावी रोड शो के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गाँधी प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री समेत सिर्फ पांच लोगों को किसी सैन्य कार्रवाई के बारे में पहले से ज्यादा हैं रही होगी और यह जानकारी देख न्यूज़ चैनल के पत्रकार तक कैसे पहुंची इस पर चिंता व्यक्त करते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश के कई आयाम हैं

जो बीजेपी से जुड़ें नेता है उन पर ये आरोप लगाया कि लोगों का था जिसकी वजह से जानकारी तक पहुँच है

एनबीए ने आपको समितियों पर शिकंजा कसा उनकी टीआरपी रेटिंग के साथ साथ उनकी सदस्यता है भूमिगत करने की बात है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है अगर यह काम कोई और करता तो न जाने क्या होगा अब बीजेपी के नेताओं तक शव को बढ़ा सकते हैं लेकिन एक हिंदी भी अपन को शमी के बाद कोई बयान नहीं दिया है

आप देखे किसानों को लेकर के एक पत्रकार ने रेट रिपोर्टिंग की उसके साथ क्या हुआ लेकिन स्वामी एक देश की सुरक्षा से जुड़े हुए मुद्दों पर किस तरह से वाट्सऐप चैट के जरिए बातें कर रहे हैं और उस पर मचा कर रहे हैं और जश्न मना रहे हैं

यह कितना बड़ा हर बात करते और बढ़ सकती हैं पेट्रोल डीजल की कीमतें लगातार बढ़ती जा रही आप इस ख़बर को देखें लेकिन इस मामले पर अब बीजेपी के अंदर ही बगावत शुरू हो गई है देश में पेट्रोल डीजल के बढ़ते दाम को लेकर लोगों में नाराजगी देखी जा रही है साथ ही साथ मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी ही सरकार की नीतियों को लेकर किए सवाल उठाकर पारित किया है उन्होंने पोस्ट शेयर किया है इसमें उन्होंने लिखा है कि रात के भारत में पेट्रोल तिरानवे रुपये देता है

जबकि सीता की नेपाल में तिरपन रुपये लीटर है और रावण की लंका भी पेट्रोल इक्यावन ओपन स्वामी केतु के बाद सोशल मीडिया पर कमेंट्स की बाढ़ आए और लोगों ने लगातार इस पर अपनी तरह से बयां किया जबकि उन्होंने साफ कहा कि जहाँ पर रामराजे है वहाँ पर पेट्रोल नब्बे से ऊपर है

जहाँ पर सीता राजा पिता का जापान की बात कर रहे थे वहाँ पर पचास रुपया तिरपन रुपये के जो पेट्रोल हैं जबकि रावण की लंका यह श्रीलंका के अन्दर इक्यावन रुपए प्रति लीटर और हमारे देश में देख लीजिए क्या हाल है यह रामराज और इस मामले पर फिर यही नहीं कई और नेता उमा भारती ने भी इनका समर्थन किया जाएगा इस पर आपकी क्या राय नीचे कमेंट बॉक्स में जरूरत है वीडियो को लाइक शेयर और सफेद