ब्रेकिंग | मोदी भक्तों को बड़ा झटका | नप गये अक्षय कुमार लता मंगेशकर सचिन तेंदुलकर | किसानों की जीत

दोस्त कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ जहाँ एक तरफ पूरे देश के किसान इन तीनों कानूनों का विरोध कर रहे हैं वहीं सरकार कृषि कानून को लेकर किला कहा एक कोशीश कर रही है कि किसानों को यह बताया जाए कि एक कानून के हित के हैं और इसमें अब एक और नया मोड़ आया है

लता मंगेशकर का सचिन तेन्दुलकर विराट कोहली अक्षय कुमार समिति कई बड़ी हस्तियों के ऊपर सरकार के पक्ष में और किसानों के ख़िलाफ़ ट्वीट करने के मामले में जांच के आदेश जारी कर दिया जिसके बाद बीजेपी और भक्तों के बीच डॉक्टर मच गई है हम आपको बताएं कि पूरा मामला क्या है और आगे की सलाह से कार्रवाई वहा जा रही है दूसरी ओर बड़ी ख़बर है

वो है बिहार से बिहार में आज नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार हो रहा है लेकिन विस्तार होने से पहले जो खबरें आ रही है बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका है साथ ही किसानों के यहाँ पर एक और बड़ी जीत हुई है एक एक के तीन बड़ी खबरें आपके सामने रखेंगे इससे पहले एक छोटी सी रिक्वेस्ट अगर आपको भी लगता है जो आज हमारे देश का अन्नदाता जो सड़कों पर बैठा हुआ है लाखों लोग बेरोजगार हैं

हॉस्पिटल की हालत बद से बदतर है लोगों के पास ऐसे नहीं है लोगों के पास नौकरियां नहीं हैं सरकार को इंसानी चीजों पर काम करने की जरूरत है अगर आपको भी ऐसा लगता है तो वीडियो को लाइक करके चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें ये सबसे पहले आप इस ख़बर को पढ़ लिये यहाँ पर कोई हाथ और डेटा संवर्ग के ट्वीट के बाद सचिन तेदुलकर लता मंगेशकर विराट कोहली अक्षय कुमार जैसी बड़ी हस्तियों ने सरकार के पक्ष में और को लेकर कई ट्वीट किए थे जिन स्पीड पर बहुत सारे लोगों ने विरोध किया और लोगों को ट्रोल भी किया और अब इन्हें ट्वीट के जरिए इन बड़ी हस्तियों की मुश्किलें बन गई है सबसे पहले तो हम आपको ट्विट दिखाते हैं उसके बाद आगे हम बताते हैं

कि किस तरह की कार्रवाई की जा रही है आप सबसे पहले स्लिप जगह और से लिखे इस वीक में आप देखेंगे एक ही शब् द को सभी लोगों के ट्वीट के अंदर इंटीरियर की मौत किया गया लिखा गया एक दिया गया है यहाँ पर केवल काजोल है

मैं आपको दिखा उसने शर्ट इसमें लाइन रिटेलर जिसने अपने के लिए क्या सुरेश रैना हो विराट कोहली हो चाहे साइना नेहवाल हो गए अक्षय कुमार और अनिल कुंबले हुए लता मंगेशकर का सभी ने एक ही शब्द को लिखा है एज क्या हैं इन्हीं ट्वीट्स को लेकर बताया जा रहा है और यह आरोप लगाया जा रहा है

ये ट्विट दबाव में करवाए गए उन्होंने की करवाए गए हैं इसमें करवाए हैं अब बहुत समझदार है समझ सकते हैं आगे हम आपको एक और ट्वीट देखते हैं आप इस ट्वीट को देखे ये साइना नेहवाल करते हैं इस ट्वीट को देखे उसके बाद क्लिक और हम आपको दिखाते हैं ये अक्षय कुमार का ट्वीट है यदि आप देखी है दोनों के ट्वीट की

देखें दोनों के ट्वीट्स के अंदर जहाँ आप बोर्ड को मैच कराए और देखें दोनों तरफ से आपको से वॉर्ड मिलेंगे एक ही ट्वीट को दोनों तरफ से पोस्ट किया गया है

और इन सारे मामा के बाद एनडीटीवी के पत्रकार रोहित शर्मा जो है उन्होंने ट्वीट किया आप पर्याप्त उन्होंने लिखा भारत सरकार इस मामले की जांच करेगी कि इन सेलिब्रिटीज पर दबाव बनाकर उन्हें ट्वीट करने को कहा गया साथ कई लोगों ने ट्वीट में अमित केवल शब्द का इस्तेमाल किया तो वहीं अभिनेता अक्षय कुमार खिलाड़ी साइना नेहवाल ने एक ही तरह के ट्वीट की है

जिसपर अब जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं बताया जा रहा है कि देश में पिछले कई महीनों से कृषि कानून के विरोध में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं इस बीच महाराष्ट्र सरकार की खुफिया विभाग कुछ नामी भारतीय हस्तियों पर किसान आंदोलन को लेकर के चित करने के दबाव के आरोपों के संबंध में जांच करेंगे हालांकि इस पर भारतीय जनता पार्टी के पार्टी ने नाराजगी जताई है और राज्य सरकार को पलटवार किया है

प्रकारच्या बैठका जो कि हमारे देश के केंद्र मंत्री हैं सूचना एवं प्रसारण मंत्री हैं उनका कहना है कि महाराष्ट्र में अब जो है देशभक्ति गुना हो गया लता मंगेशकर सचिन तेदुलकर अक्षय कुमार देव इत्यादि लोगों के ट्वीट के ऊपर जो कार्रवाई करने की बात कही गई उन पर के जो हैं

अपना बयान दें यदि इनका कहने का मतलब है कि विराट कोहली हो चाहे कुमार हो चाहे लता मंगेशकर हो जीतने भी लोगों ने ट्वीट किए हैं किसानों को लेकर के हुए ट्वीट देश शक्ति के मिश्रा विशाल है और जो किसान सड़कों पर बैठा हुआ है उनके अंदर देशभक्ति वेंटीलेशन है जैसा कि बीजेपी के कई नेता आरोप लगाते रहे हें तो प्रकाश जावेड़कर जी का कहना है

कि अगर इन क्लिप्स जांच होगी के दबाव पर आकर करवाए कैसे करवाए गए तो इसे सीधे तौर पर देशभक्ति ये देशभक्ति वाला उनकी नजर में अब आप समझिये जब किसानों के ख़िलाफ़ बोलना देशभक्ति है किसानों को तेजी से बताना किसानों को अलग अलग तरीके से कार्य करना उनको एंटी नेशनल बताना चाहिए देशभक्ति है आप सोचे जो अन्यथा हमारा पेट भरता है जो खुद को अनाथ देता है

अपने मेहनत करके दिन रात काम करते हो आज अपनी रोज़ी रोटी के लिए अपनी बात को लेकर की सड़क पर उतरा तो क्या हुआ एडमिशन हो गया वो टेररिस्ट हो गया क्या उसके अंदर देशभक्ति नहीं है तो वहा पर प्रकाश जावड़ेकर जी को दूसरे वाला काम देता लेकिन उन्होंने कहा कि जिन हस्तियों ने इनके परिवार में ट्वीट कर दिया और उन ट्वीट्स की जांच होगी तो वो जो है मामला एंटी नेशनल हो गया यानी की ये काम ठीक में इनके मुताबिक खाएं आपको अपनी इस प्रकार है

नीचे समय बॉक्स में अपनी राय को जरूर चेक कर ये बात करके एक और बड़ी ख़बर के आप सभी जानते हैं कि आज बिहार के मंत्रिमंडल का विस्तार हो चुका है मैक्सिमम फॉर्मेलिटी पूरी कर ली गई है और नीतीश कुमार के मंत्री भी बहुत

और नीतीश कुमार के मंत्री बहुत सारे लोग बनके संवाद सहयोगी मंत्री पद की शपथ भी ले चूके हैं लेकिन इस बीच जानकारी है कि कैबिनेट विस्तार से पहले बीजेपी के अंदर भयंकर टकराव हुआ है आपण इस ख़बर को बीजेपी में बगावत अहमद ने बताया श्रम विरोधी मंत्रीमण्डल हैं

यानी कि बिहार में नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल विस्तार शपथ ग्रहण लेने से पहले एक बार फिर से पार्टी के दो समाधान शुरू हुआ है इस विवाद की जगह की जो घमासान हुआ इस विवाद की वजह बीजेपी के विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू है

ओके उन्हें मंत्री मंडल विस्तार से पहले अपनी पार्टी यानी बीजेपी पर निशाना साधते हुए अपनी पार्टी के ख़िलाफ़ मोर्चा खोल दिया है यादवेंद्रसिंह में पार्टी पर संगीन आरोप लगाए हैं उनका सीधे तौर पर कहना है कि पार्टी को कुछ गाओ ने अपनी पॉकेट की पार्टी बना लिया है उन्होंने कहा कि इस मंत्रीमण्डल में क्षेत्रीय और ना ही सामाजिक समीकरण का ध्यान रखा गया है ना ही इसमें सफल लोगों को शामिल किया गया है

जिसके चलते उन्होंने खुले तौर पर पार्ट ई जब वकालत करती है अब देखना यह है कि आगे इस मामले को कैसे किस तरह से पार्टी मैनेज करती है एक और ख़बर की बात करते हैं आप सभी जानते होंगे कि साल अन्यदाता सड़कों पर है

लेकिन बहुत सारे हस्तियों ने उनकी स्पोर्ट में अभी तक ट्वीट की अपनी आवाज को बुलंद किया लेकिन आप किसानों को दादी चंद्रो तोमर का समर्थन मिला है आप इस ख़बर को उन्होंने साफतौर पर कहा किसान आतंकवादी और ना ही कुछ और इस साल जो भी आप बात कर रहे हैं

उनका अपना स्थानीय ना आतंकी है आगे उन्होंने लिखा सिर्फ हमारे भाई हैं नक्सल से भी असल से अब देखना यह है कि भक्त गाँधी के ऊपर क्या करते है क्या कमेंट करते हैं है

गाँधी जी ने अच्छा काम किया है आपकी क्या राय है निश्चित और मौसम बताये वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि इन्फोर्मेशन दूसरे लोगों तक पहुँच आजकल एक नहीं मिलते कुछ और हाथों के साथ वीडियो लाइव शेर जरूर