ब्रेकिंग | 6 लाख लोगों छोड़ा देश | मोदी शाह के उड़े होश

की बाते है आप सभी जानते हैं जब से देश में मोदी सरकार आयी है तब से सभी को ये आस लगी हुई है कि अच्छे दिन आएँगे और इन अच्छे दिनों की तलाश में और इसका इंतज़ार कर कर के लगभग लोग हमारे देश के देश छोड़कर दूसरे देशों की नागरिकता ले चूके हैं इसका एक बड़ा खुलासा हुआ है

जिसके बाद सूची मीडिया से लेकर थे पूरे देश में चर्चा होने लगी है क्या अच्छे दिन यहीं थे और अगर इसी तरह के अच्छे दिन हैं तो आखिरकार पहले के जो दिन थे वो क्या बुरे थे एक बड़ा सवाल है इसी पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक रिपोर्ट में बहुत बड़ा खुलासा हुआ है जिसतरह से सील आएगा ये कहा गया कि दूसरे देशों के नाम तरीकों हम यहाँ की नागरिकता देंगे लेकिन जो देश की रिपोर्ट आ रही है चौंका देने वाली है

साथ ही साथ को हरियाणा में बड़ा झटका लगा सकता है जानकारी के मुताबिक बीजेपी पता संकट पहुँच गया है साथ ही कहा राकेश टिकैत ने एक और बड़ा ऐलान कर दिया है जिसके बाद बीजेपी की ओर था जीजेपी जो कि हरियाणा में सरकार जिनकी है जिनके अंदर हलचल सी मच गई है

दरअसल पहली ख़बर की तरह लोग करते उससे पहले छोटी सी रिक्वेस्ट अगर आपको भी लगता जो फार्मर आज हमारे आठ सालों में पौने सात लाख़ लोगों ने भारत की नागरिकता छोड़ दी है ये डेटा रिपोर्ट किसी और ने नहीं बल्कि मोदी सरकार ने लू लोकसभा के अंदर दी है

गृह मंत्रालय यदि आप एसईओ ओर से आ यानी की कल मंगलवार को लोकसभा में यह जानकारी दी गई है कि दो हज़ार पंद्रह से लेकर के दो हज़ार उन्नीस के बीच छहलाख लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़ दी है और अन्य देशों की नागरिकता ग्रहण कर लिया लोकसभा में गृह मंत्रालय की ओर से दिए गए

जवाब में बताया की दो हज़ार पंद्रह के बीच छह रन से होकर लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़ दी तो दो हज़ार पांच से लेकर दो हज़ार बीस के बीच लगभग सैंतीस लाख़ विदेशियों को कोसी आइओसी सिटीजन ऑफ इंडिया कार्ड भी दिया गया गृह मंत्रालय के अनुसार विदेशों में लगभग अगर हम अपने देश की बात करें तो एक पॉइंट पच्चीस करोड़ यानी की लत

पच्चीस करोड़ यानी लगभग है एक करोड़ से ज्यादा भारतीय खरीदी गई है कि पिछले दो हज़ार पंद्रह से लेकर के दो हज़ार बीस तक जानी है जिसमें दो हज़ार पंद्रह में एक लाख छप्पन लोगों ने भारत की नागरिकता छोड़ दी है

जबकि दो हज़ार सोलह में यात्रा एक लाख पानी पहुंचा दो हज़ार सत्रह में यात्रा एक लाख सत्ताईस पहुंचा उसके बाद दो हज़ार आठ में एक लाख पच्चीस ई पहुँचा जब पहुंचना और एक टूटर आंकड़ा दो हज़ार उन्नीस तक का जो है छह लोगों तक पहुँच गया छोड़ कर के दूसरे देशों की नागरिकता नागरिकता ली है

क्यों नहीं है क्या वजह रही होगी ये तो एक चर्चा का विषय है और इसमें जानकारी कुछ भी नहीं है लेकिन यह बड़ा सवाल है कि जब अच्छे दिन वाला भारत बनाने की बात बीजेपी कर रही थी नागरिकता छोड़ी तो उसके पीछे की बजाय रखें प्रेशर कम करने को लेकर लगातार मांग हो रही

इस पर कानून बनाया जाए इस पर जल्द से जल्द कानून बनाकर के लोगों की जो पोपुलेशन को कम की जाए आजा के दूसरे जगहों से आए लोगों को नागरिकता देंगे ये बात करते हैं और बड़ी ख़बर की आप सभी जानते हों किसान आंदोलन लगातार बीजेपी की नाक में नकेल बन चुका है बीजेपी के दिग्गज नेताओं का कई किसानों के गाँव में हुक्का पानी तक बंद कर दिया गया है लेकिन अब नौबत यहाँ तक आ गई है

कि हरियाणा के अंदर बीजेपी बीजेपी की सरकार तक गिरने की जाने की नौबत आ रही है जानकारी के मुताबिक शाहपुर क्षेत्र के गूगल आँकड़ों की आवाज मंदी जीत का कंडेला और चरखी दादरी में राकेश टिकैत में जो महापंचायत की थी उसके बाद हरियाणा के अंदर हलचल बढ़ गई है

अगर पशु उत्तर प्रदेश के इलाकों को देखें तो जहाँ पर आंदोलन की गति दी जा रही है वह भी जांच करायी का खासा प्रभाव है घटक दिवस के बाद राकेश टिकैत ने जीस तरह से आंदोलन को फिर से बाहर रिकवर की

आंदोलन को फिर से बाहर रिकवर किया जिसतरह से खड़ा किया है ये कहीं न कहीं एक बड़ी चुनौती थी लेकिन उस चुनौती को उन्होंने पार किया लेकिन अब बता जहाँ खुद को गाजीपुर सर्वर से बाहर निकालकर हरियाणा में ताबड़तोड़ किसान महापंचायत राकेश टिकैत ने करनी शुरू कर दी है

उसमें मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार की जो मुश्किल है उभर सकती है प्रदेश में इस तरह से उनकी माँ पंचायतों में गांव से लोगों की भारी भीड़ जुट रही है उसे देखकर कहा जाने लगा कि मुख्यमंत्री खट्टर को टिकट की नजर ला सकती है इस आंदोलन के चक्कर में भाजपा संकट में आ सकती है

आप किसानों के बीच ऐसे लाने सुनाई पड़ रहे हैं अखिल भारतीय आदर्श जाट महासभा के अध्यक्ष दीपक राठी कहते हैं कि शिकायत के कदमों का सभी की नजर उन्होंने अभी तक जीतने भी महान टिक्की हैं

वे सभी जान भूमि लाखों की हालांकि अभी चुनाव दूर हैं लेकिन मौजूदा स्थितियों में विख्यात हरियाणा की भाजपा सरकार को भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं और बकाए जा रहा है कि किसी खाने में होंगे वो तो बीजेपी के हाथ जेपी के हाथ से जाएगी चाहिए साथ ही साथ सरकार अभी चल रही वो भी गिर सकती है

कहा जा सकता है कि सरकार कितने दिन चलेगी एक खबरें आ रही है हरियाणा आपकी अपनी स्पर्धा नीचे कमेंट बॉक्स में इसके बारे में अपनी रैंक को जरूरी हैं बात करते हैं और बराबर की राकेश टिकैत में जिसतरह से किसानों के दौरान इक्का लिए राज्य के अनुसार दिल्ली में हिंसा हुई लाल किले के ऊपर जो कुछ भी हुआ बहुत दुख था

और इसी गणतंत्र दिवस के मौके पर लाल किले पर हुई हिंसा और धार्मिक झंडा फहराने के मामले पर मुख्य आरोपी देव सिंधु को दिल्ली पुलिस की एसपी कल सैली गिरफ्तार कर लिया दिल्ली प्रकृति से दूर समेत चार लोगों पर एक एक लाख रुपये का इनाम रखा था

वे सभी के सभी अभी फ़िलहाल को गिरफ्तार नहीं हुए हैं दो लोग अभी तक गिरफ्तार हुए आप इसी को लेकर के राकेश टिकैत ने कहा कि इस आंदोलन को शाहीबाग न बनाएँ