ब्रेकिंग | CAA NRC ममता बनर्जी बड़ा ऐलान | मोदी शाह को झटका

पर यानी मोदी सरकार का कहना है कि अभी इसी नागरिकता संशोधन कानून को लागू करने में पांच महीने का वक्त और लगेगा इसके नियम बनाने में साथ ही साथ एनआरसी को लेकर उनका प्लान है

लेकिन उसके तुरंत बाद ममता बेनर्जी ने नागरिकता संशोधन कानून एनआरसी एनपीआर को ले करके एक बड़ा ऐलान कर दिया है जिससे सभी राजनीतिक पार्टियां गाँधी के पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी में हड़कंप सा मच गया साथ ही साल मोदीराज यानी की मौत की सरकार ने एक और बड़े सर्वे के मुताबिक देश को बड़ा झटका लगा है

साथ ही साथ कंगना रनौट के ऊपर एक बड़ी कार्रवाई की गई है एक खेल के तीन बड़ी खबरें आपके सामने रखेंगे इससे पहले एक छोटी सी रिक्वेस्ट अगर आपको भी लगता है कि दोस्तोँ आज हमारे देश में जीस तरह से अन्यथा सड़कों पर बैठे हुए हैं

सरकार को चाहिए कि उनकी मांगें पूरी की के साथ ही साथ अच्छी शिक्षा अच्छे हॉस्पिटल कैसी लगी अच्छी कमी पर ज्यादा कंसन्ट्रेट करें अगर आप ऐसी राय रखते थे और अगर इस तरह की मांग करते हैं तो वीडियो पर लाइव करके चैनल को सब्सक्राइब कृप्या नीचे सबसे पहले बात करते हुए राशि को लेकर मोदी सरकार ने काफी ताकत लगाई इस कारण को जल्द से लागू कर दिया और लागू भी कर दिया गया लेकिन उसके बाद रोना आया ये पूरा मामला अपने मस्तिष्क में चला गया लेकिन जैसे जैसे पश्चिम बंगाल का चुनाव आ रहा है

वैसे वैसे नागरिकता संशोधन कानून का जो मुद्दा है जो लगातार गरमाता जा रहा है और इस बीच ममता बेनर्जी में नागरिकता संशोधन कानून एनआरसी को लेकर जो बयान दिया है उस पर बीजेपी सकते में आ गया पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव को देखते हुए सियासी सरगर्मी बढ़ गई है

चुनाव से ठीक पहले मुख्यमंत्री ममता बेनर्जी ने नागरिको के राष्ट्रीय रजिस्टर यानी एनआरसी का एक बार फिर मुद्दा उठाया मालीपुर द्वार में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बेनर्जी ने साफ शब्दों में कहा है कि वह कभी भी एनआरसी को लागू नहीं होने देगी पश्चिम बंगाल के तौर पर ममता बेनर्जी ने कहा कि विभाग थाएँ राशी के नाम पर लोगों के बीच दरार पैदा करना चाहती है

मैं पश्चिम बंगाल में डाल से लागू करने की अनुमति कभी नहीं हुई है इससे नासिक के अलावा सी ए को लेकर भी सियासी बयानबाजी पर में जमकर अभियान की अपना बयान दिया बदलाव बीजेपी के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि सीए लागू करने के लिए राज्य की कोई आवश्यकता नहीं है जिसपर ममता बेनर्जी ने एक बार फिर इस मामले को उठाते हुए कहा

इस मामले को उठाते हुए कहा है कि जब तक मैं सप्ताह में हूँ तब तक ये चीजें लागू नहीं होने देंगे जिससे एक बार फिर से बीजेपी और बढ़ गया है इससे आपकी समस्या है वित्तीय वर्ष में आने वालों को जरूर बात करने और परिसंपत्ति लगातार हमारे देश में बातों की लोकतंत्र यानी की डेमोक्रेसी थी लेकिन डेमोक्रेसी को लेकर के बहुत सारे लोग के बीच मतभेद हैं

बहुत सारे लोगों का मानना है कि डेमोक्रेसी अभी भी है और डेमोक्रेसी हमारा देश जो है सबसे बड़ा डेमोक्रेसी वाला है लेकिन इस देश के डेमोक्रेसी के जो नंबर है जिसे पायदान पर था इसको एक बड़ा झटका लगा है

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का खिताब रखने वाले हमारे प्यारी यानी की भारत की डेमोक्रेसी इंडेक्स में एक सर्वे के मुताबिक जो राइटिंग जो रैंकिंग लगातार गिरती जा रही है भारत दो दो हज़ार वी लोगों तक सूचकांक यानी की जो श्रेणी है यदि डेमोक्रेसी इंडेक्स की वैश्विक रैंकिंग में दो स्थान खिसक कर तिरपन वें स्थान पर आ गए हैं हालांकि भारत अपने पड़ोसी देशों की तुलना में बेहतर स्थिती में जरूर है

लेकिन रिकॉर्ड मिस एंजी यूनिटी आई यू ने कहा है कि सब अधिकारियों के लोकतांत्रिक मूल्यों से पीछे हटने और नागरिक की स्वतंत्रता पर हवाई के कारण देश दो हज़ार उन्नीस की तुलना में दो हज़ार मिनट में दो स्थान नीचे फिसल गया है यदि कि वो पूरी तरह से इस सर्वे के मुताबिक जा रही डेमोक्रेसी इंडेक्स में जो एक सर्वे होता है

उसके मुताबिक बताया जा रहा है कि नागरिको की सत्ता पर काबिज है कि प्रदेश में दो हज़ार उन्नीस के मुकाबले दो हज़ार में दो पायदान नीचे गया है भारत और ई के लोकतंत्र सूचकांक यानी की श्रेणी में एक वें स्थान पर रहा था भारत में दो हज़ार में सेक्स पर मिले थे जो छत तक अवश्य सिक्स फ़ाइव स्टीफन नंबर रहेंगे या केले विश्व

में एक सौ सत्रह देशों में लोकतंत्र की मौजूदा स्थिती की झलक दिखाता है तो यह कहीं ना कहीं मामला आया और आप जोआन तिरपन वें नंबर पर भारत को नीचे रख तिरपन वें नंबर पर पहुँच गया दो अज है यहाँ पर

अब आप सोचिये क्या अभी आपको लगता है डेमोक्रेसी की दुहाई देने वाले नेताओं को ऐसा लगता है यदि डेमोक्रेसी है जब डेमोक्रेसी है तो कहाँ तक है एक बड़ा मामला है आपको अपनी इस प्रकार हैं नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी रैंक को जरूर शेतकरी बात करने और बड़ी खपत की गणना डाला आप सभी जानते होंगे कि स्प्रिंग खोलने पर बैठकर खांसी की पानी का खिताब भक्तों के द्वारा जरूर उसको मिल गए हैं लेकिन एक तरह मुंबई पुलिस लगातार करना नॉर्थ के ऊपर जो है सेकंड जा रही है

वहीं दूसरी तरफ अब और बड़ी कारों की गई है बताया जा रहा है कि ट्विटर पर करना हर मुददे पर खुलकर अपनी बात कहती नजर आती है लेकिन हाल ही में ट्विटर में एक्ट्रेस के कुछ टिप्स को डेली करके और अपने पैर कॉम हटा दिया टिकट दरअसल सूत्रों का कहना है कि एक्ट्रेस ने अपने पोस्ट में अभद्र भाषा का प्रयोग किया जो नियमों के ख़िलाफ़ थे बता दें कि करीना के दो ट्वीट को दो घंटे में पता लगा है

इससे पहले लगातार विवादों में रही और कंगना रनौत की पट्टी लगातार विवादों में रहे जिसपर उन्होंने कई किस्म की बातें की वो चाहे किसानों का प्रोटेस्ट को चाय दिलजीत का मामला हो चाहे अलग अलग तरह की सिलेब्रिटी सेलिब्रिटीज का मामला हो ठीक है इसमें कहीं ना कहीं लगातार करना अपनी बात रखती रही है लेकिन करना खुद के ख़िलाफ़ एक बार फिर से ट्विटर ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उनके ट्वीट जिसमें अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया था

उनको डिलीट कर दिया है आप अपने अनुभव को देखना है इस पर क्या बयान देती है लेकिन कम राउंड ऊपर जो है ट्विटर है एक बार फिर से कार्य करते हुए इस तरह की यानी की ट्वीट भी किया है ताकि अपनी प्रक्रिया है नीचे कमेंट बॉक्स में प्रिया को जरूर शेयर करें कभी सेक्स वीडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें ताकि वे फॉर्मेशन दूसरों तक पहुंचना आसान लगता ही मिलते हैं और थोड़ा सा